उप पंजीयक और पटवारी के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश

कलेक्टर श्री मुकेश बंसल ने रायगढ़ छत्तीसगढ़ जिलेके जनजाति वर्ग के एक व्यक्ति की जमीन उड़ीसा के जनजाति वर्ग के व्यक्ति कोविक्रय करने में मिली भगत के आरोप एवं बेनामी नामांतरण पर उप पंजीयक औरपटवारी के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं।
रायगढ़ जिलेके घरघोड़ा अनुविभाग के ग्राम बरपाली तहसील तमनार के कलेक्टर न्यायालयरायगढ़ में दर्ज राजस्व प्रकरण क्रमांक 13/अ-2/2013-14 ((पक्षकार सुशीललकड़ा आ.श्री अलफास लकड़ा विरूद्ध छत्तीसगढ़ शासन)) में संलग्न बी.1 की नकलके अवलोकन में पाया गया कि आवेदक सुशील लकड़ा वल्द श्री अलफांस लकड़ाग्राम-तमरा, पोस्ट आफिस एवं तहसील बनकी जिला-सुंदरगढ़ ((उड़ीसा)) का मूलनिवासी है। आवेदक सुशील लकड़ा पिता अलफांस लकड़ा निवासी-सुंदरगढ़ ((उड़ीसा)) के नाम ख.नं. 35/ 1 ख रकबा 8.100 हे.ख.नं.35/1 ग रकबा 10.115 हे.एवं ख.नं. 35/1 9.759 हे.कुल ख.नं. कुल रकबा 27.974 हे.भूमि.अभिलिखितहै। संविधान के अनुच्छेद 341 342 के तहत विभिन्न राज्य के लिए अनुसूचितजाति / जनजाति की सूची अपने राज्य तक ही सीमित है। अनुसूचित जाति / जनजातिप्रवजन संबंधी नियम के अनुसार जो व्यक्ति जिस राज्य का मूल निवासी था, उसीराज्य के लिए उसे अनुसूचित जाति या जनजाति माना जायेगा, अन्य दूसरे राज्योंमें नहीं। उपरोक्त नियमों के परिप्रेक्ष्य में आवेदक सुशील लकड़ा पिताअलफांस लकड़ा निवासी सुंदरगढ़ ((उड़ीसा)) द्वारा ग्राम-बरपाली तहसील तमनारस्थित आदिवासी वर्ग के व्यक्तियों से उक्त भूमियों के संबंध में किए गएसमस्त संव्यवहार बेनामी अंतरण की श्रेणी में आता है। कलेक्टर ने प्रकरण मेंछ.ग.भू-राजस्व संहिता की धारा 170 ((ख)) के तहत प्रकरण भी दर्ज कर त्वरितकार्यवाही करें। एसडीएम घरघोड़ा को निर्देशित किया है और आदेश में कहा गयाहै कि आवेदक सुशील कुमार लकड़ा पिता अलफास लकड़ा निवासी सुंदरगढ़ ((उड़ीसा)) द्वारा आदिवासी वर्ग की भूमि को पटवारी व उप पंजीयक से मिली भगतकर भूमि क्रय किया गया है, अतएव संबंधित पटवारी व उप पंजीयक के विरूद्धकठोर अनुशासनात्मक कार्यवाही करते हुए प्राथमिकी दर्ज कराते हुए इसकार्यालय को तत्काल अवगत कराना सुनिश्चित करें। जारी पत्र में कलेक्टर नेकहा है कि घरघोड़ा अनुविभाग अंतर्गत उपरोक्त प्रकार के समस्त संव्यवहार कोसंज्ञान में लेते हुए उपरोक्तानुसार कार्यवाही करना सुनिश्चित करें, तथा इससंबंध में आपके द्वारा की गई कार्यवाही से समय-सीमा की बैठक में अवगतकरावें।

Advertisements

Author: madhubaganiar

Madhubaganiar loves to write on social issues especially for downtrodden segment of Indian society.

I am thankful to you for posting your valuable comments.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s